हम सब स्वयं ही अस्वस्थ होने के उत्तरदायी है – प्रोफेसर नीलिमा गुप्ता

आचार्य नरेन्द्र देव नगर निगम महिला महाविद्यालय, हर्ष नगर, कानपुर में आरोग्य भारती कानपुर प्रांत द्वारा ‘स्वस्थ जीवन शैली‘ विषय पर संगोष्ठी एवं निःशुल्क जाँच शिविर का आयोजन किया गया। जाँच शिविर में लगभग 200 छात्राओं ने निःशुल्क जाँच करायी। स्वच्छता पखवाड़े के अन्तर्गत आयोजित प्रतियोगिताओं के विजयी छात्राओं को प्रमाण पत्र एवं पुरस्कार प्रदान किये।

कार्यक्रम का शुभारम्भ मुख्य अतिथि प्रोफेसर नीलिमा गुप्ता जी (कुलपति, छत्रपति शाहू जी महाराज विश्वविद्यालय), विशिष्ट अतिथि के रूप में डॉ विनय कृष्ण जी (निदेशक ह्नदय रोग संस्थान) एवं डॉ सीमा द्विवेदी जी (स्त्री रोग विशेषज्ञ, जी.एस.वी.एम., कानपुर) एवं आरोग्य भारती के प्रान्त सचिव श्री अनोखे लाल जी द्वारा दीप प्रज्जवलन कर किया गया। महाविद्यालय की प्राचार्या डॉ. नूतन वोहरा जी ने सम्मानित अतिथियों का हार्दिक स्वागत एवं अभिनन्दन किया।

मुख्य अतिथि माननीया कुलपति जी ने स्वस्थ जीवन शैली विषय पर सम्बोधित करते हुए कहा कि हम सब स्वयं ही अस्वस्थ होने के उत्तरदायी है क्योंकि पुरानी स्वस्थ जीवन शैली को छोड़ दिया है। परिश्रम न करने की आदत, अनियंत्रित भोजन व अनियंत्रित दिनचर्या खराब स्वास्थ का मुख्य कारण है। उन्होंने कहा कि जीवन में योग, आयुर्वेद द्वारा प्रतिपादित दिनचर्या व औषधियों का सेवन तथा विचारधारा में बदलाव हमें निरोगी बना सकता है।

विशिष्ट अतिथि डॉ. विनय कृष्ण जी ने स्वस्थ जीवन हेतु अनुशासन की आवश्यकता पर बल देते हुए कहा कि योगासन, प्राणायाम, ध्यान, संतुलित आहार ही तन-मन को स्वस्थ करने में सहायक है। उन्होंने तम्बाकू आदि नशीली पदार्थों से बचने के लिए प्रेरित किया।

विशिष्ट अतिथि डॉ. सीमा द्विवेदी जी ने स्वस्थ जीवन शैली के मूल मंत्र स्वयं से प्रेम, देश से प्रेम व ईश्वर से प्रेम ही मानव जीवन की सफलता के हेतु है। अनियंत्रित जीवन शैली, प्रदूषित पर्यावरण व असंतुलित भोजन के द्वारा स्वास्थ्य संबंधी समस्यायें उत्पन्न हो रही है। स्वस्थ जीवन शैली से ही सशक्त व्यक्तित्व का विकास हो सकता है।

आरोग्य भारती के सचिव श्री अनोखे लाल जी संगोष्ठी का विषय प्रर्वतन करते हुए कहा कि पुरूषार्थ चतुष्टय की प्राप्ति के लिए स्वस्थ शरीर का होना अत्यन्त आवश्यक है। स्वस्थ जीवन शैली अपनाकर ही स्वस्थ शरीर प्राप्त किया जा सकता है।

औषधियों पौधों के महत्व को प्रोत्साहित करने हेतु अतिथियों द्वारा औषधीय पौधों का रोपण किया गया तथा निःशुल्क स्वास्थ्य जाँच शिविर का निरीक्षण भी किया। कार्यक्रम का सफल संचालन डॉ0 रीता श्रीवास्तव एवं धन्यवाद ज्ञापन डॉ0 संतोष भटनागर, कार्यक्रम संयोजक द्वारा किया गया।

We all are liable to be unhealthy Arogya Bharati Kanpur Prant 01We all are liable to be unhealthy Arogya Bharati Kanpur Prant 02We all are liable to be unhealthy Arogya Bharati Kanpur Prant 03We all are liable to be unhealthy Arogya Bharati Kanpur Prant 04We all are liable to be unhealthy Arogya Bharati Kanpur Prant 05