जब तक रोगों से सामना नहीं होता, तब तक स्वास्थ्य का महत्व समझ में नहीं आता – डॉ सोनी, रीवा

विगत सप्ताह स्वास्थ्य जागरूकता अभियान के अंतर्गत रीवा, महाकौशल प्रान्त में अनेक कार्यक्रम संपन्न हुए :-

01 – केंद्रीय जेल रीवा में “स्वच्छ भारत स्वस्थ भारत” उद्देश्य को लेकर स्वच्छता अभियान के तहत कैदी भाइयो को जागरूक किया गया, कैदी भाइयो को नियमित दिनचर्या, उचित आहार एवं ध्यान योग के महत्त्व के बारे में विस्तारपूर्वक बताया गया |

02 – ब्रिटस एशिया स्कूल लीना नगर – में स्वास्थ्य प्रबोधन एवं औषधीय पौधों पर प्रबोधन संपन्न हुआ | आरोग्य भारती औषधीय पौधों के जिला प्रभारी एवं डिब्रायु फार्मा के डायरेक्टर डॉ मुनींद्र द्विवेदीजी द्वारा बच्चों को औषधीय पौधों की जानकारी देते हुए उसकी उपयोगिता बताई गई तत्पश्चात विद्यालय के प्रांगण में औषधीय पौधों का रोपण किया गया | कार्यक्रम में आरोग्य भारती की प्रांतीय महिला प्रभारी डॉ सरोज सोनी पूर्व जिला पंचायत उपाध्यक्ष श्री रोहिणी सिंहजी ,विद्यालय के डायरेक्टर इंजीनियर दीपक सिंह, प्राचार्य श्रीमती नीरज सिंह ,रत्नेश पाठक, प्रकाश सिंह एवं शिक्षिकाओं सहित बच्चों की उपस्थिति रही |

03 – एस के जी विद्यालय सिलपरा – में स्वास्थ्य एवं किशोर- किशोरी विकास पर प्रबोधन संपन्न हुआ, आरोग्य भारती के प्रांतीय महिला प्रभारी डॉ सरोज सोनीजी द्वारा अनियमित दिनचर्या को नियमित करना एवं दैनिक जीवन में योग, सूर्य-नमस्कार तथा प्राणायाम को शामिल करने का आग्रह किया गया जिससे बच्चे आजीवन स्वस्थ रह सकते हैं साथ ही ओम का उच्चारण पर प्रकाश डालते हुए बताया गया कि नियमित रूप से ओम का उच्चारण करें तो मन शांत होता है तथा एकाग्रता में वृद्धि होती है, समाजसेवी श्रीमती ममता नरेंद्रजी द्वारा किशोर- किशोरी विकास पर प्रकाश डालते हुए बहनों को अपनी सुरक्षा स्वयं ही करना है उन्हें जागरुक करते हुए बताया कि अपनी रक्षा कैसे करना चाहिए और किन-किन बातों से हमें परहेज करना चाहिए साथ ही उनके पहनावा को लेकर जागरूक किया गया, बच्चों को बताया गया कि नशा एक अभिशाप है अतः स्वयं और अभिभावकों को नशा से दूर करने का प्रयास करें जिससे नशा मुक्त होकर गंभीर बीमारी से बचा जा सके | कार्यक्रम में विद्यालय के डायरेक्टर श्रीमती अन्नपूर्णा कुशवाहा शिक्षक- शिक्षिका सहित बच्चों की उपस्थिति रही |

pjimage (9)42583646_1007125049462243_6482754152601485312_n 42513360_1006970962810985_6748908920837767168_n 42572724_1006970846144330_8824035211852382208_n 42508296_1006196896221725_1729804907462000640_n 42458910_1006196789555069_272261288313225216_n 42349626_1005679596273455_3491245964205752320_n