मधुमेह मुक्त योग शिविर का दूसरा चरण संपन्न – रीवा

आरोग्य भारती रीवा द्वारा मधुमेह मुक्त योग शिविर का दूसरा चरण 23 अगस्त 2015 संपन्न हुआ, विगत माह मधुमेह मुक्त भारत योग शिविर की सफलता के बाद बेंगलुरु के स्वामी विवेकानंद विश्वविद्यालय के तत्वावधान मेँ संचालित योग शिविर का दूसरा चरण सरस्वती शिशु मंदिर (धोबिया टंकी के पास) सरस्वती पुरम जेल मार्ग में हुआ जिसमे बड़ी संख्या में शिवियार्थी उपस्थित थे।

शिविर का मार्ग दर्शन योग गुरु डॉ. शेषमणि कुरमवंशी के द्वारा किया गया एवं सेवा निवृत मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ.पद्मावती पांडेजी का अतिथित्व में संपन्न हुआ।

शिवियार्थी श्री उमाकांत शर्मा (सरस्वतीपुरम के आचार्य) ने बताया कि शिविर के पूर्व मुझे आसमान के तारे दिखाई नहीँ देते थे और एक बार मैँ नाली मेँ गिर गया था जिससे मुझे बहुत चोट आ गई थी इस संबंध मेँ मै नेत्र चिकित्सक से सलाह लिया तो उन्होंने ऑपरेशन की सलाह दी इसी बीच मेने मधुमेह मुक्त भारत योग शिविर मेँ भाग लिया और उनके बताए गए आसन और योग करने से मुझे अब आंखो से साफ नजर आने लगा और मुझे अभी चश्मा भी नहीँ लगा है और इसी शिविर के श्री अनिल कुमार त्रिपाठी (सरस्वती पुरम के आचार्य) ने बताया कि उंहेँ लकवा के कारण बोलने, लिखने और चलने मेँ बहुत कठिनाई होती थी और इस शिविर मेँ भाग लेकर योग और आसन करने से मुझे लिखने ,बोलने और चलने मेँ बहुत सुधार आ गया है इनके अलावा और भी शिवियार्थी मेँ बहुत अंतर देखा गया है लोगो के मधुमेह मेँ बहुत मात्रा मेँ गिरावट आई है।

शिविर को सफल बनाने में डॉ.वैदेही प्रसाद तिवारी (सचिव – आरोग्य भारती महाकौशल प्रान्त), डॉ.सरोज सोनी (महिला प्रभारी आरोग्य भारतीय जिला इकाई रीवा), डॉ. ए. पी.तिवारी (सयोजक मेडिसिनल प्लांट आरोग्य भारती महाकौशल प्रान्त), विवेक सक्सेना ,डॉ शैलेंद्र सोनी डॉ.मुनींद्र द्विवेदी एवँ एवं अन्य प्रमुख कार्यकर्ताओ का योगदान रहा।

The second phase of the diabetes free yoga camp RewaThe second phase of the diabetes free yoga camp Rewa 1