औषधीय वनस्पति राष्ट्रीय ​कार्यशाला पणजी गोवा सम्पन्न

आरोग्य भारती द्वारा औषधीय वनस्पति प्रचार ​-प्रसार ​​आयाम के ​के अंतर्गत एंटरटेनमेंट सोसाइटी ऑफ़ गोवा परिसर पणजी में ​ 25-26 मार्च 2017 को दो दिवसीय ​राष्ट्रीय ​कार्यशाला-भाग एक सम्पन्न हुई, इस ​कार्यशाला में दक्षिण-पश्चिम एवम मध्य  भारत के प्रान्तों के 11 राज्यों से 41 प्रतिनिधियों ने भाग लिया।

कार्यशाला का उदघाटन आरोग्य भारती के राष्ट्रीय कार्याध्यक्ष डॉ रमेश गौतम एवं राष्ट्रीय महासचिव डॉ सुनील जोशी द्वारा भगवान धन्वन्तरि की मूर्ति पर माल्यार्पण एवं द्वीप प्रज्वलन किया गया।

डॉ रमेश गोतम जी द्वारा आरोग्य में औषधीय पौधों के महत्व एवं उपयोगिता विषय पर प्रस्तुतिकरण दिया, डॉ सुनील जोशी जी ने आरोग्य भारती द्वारा इसे विशेष आयाम के रूप में विकसित करने के विषय में जानकारी दी, डॉ राकेश पंडित जी ने इस आयाम की परिकल्पना एवं इसके अंतर्गत विभिन्न कार्यक्रमो की प्रस्तुति दी, डॉ सत्यनारायण भट्ट जी (मैसूर) ने वनौषधियों के घरेलु उपचार में उपयोग के विषय में जानकारी दी, श्री कणाद खरे जी (दमोह) ने औषधीय पौधों की खेती एवं ईनका फेंनसिंग विषय पर प्रस्तुति दी, डॉ अशोक वार्ष्णेय जी द्वारा इस आयाम को आगे कैसे बढ़ाना एवं संगठनात्मक पहलुयों पर अपना उदबोधन प्रस्तुत किया, इनके अतिरिक्त डॉ मीनू भाई परबिया जी (जूनागढ़), श्री किशोर भट्ट जी (भावनगर), डॉ श्रीमती रीता श्रीवास्तव जी (रायपुर छःग:), श्री राजेन्द्र अग्रवाल जी (बिलासपुर), पारम्परिक चिकित्सक श्री शांजी वेद्ययन जी (केरल), श्री सदाशिव जी (बेंगलुरु), श्री भरत कोराट जी (राजकोट), श्री ओमकार दत्त जी (मुरैना) ने भी अपने अनुभव एवं विचार प्रस्तुत किये।

कार्यशाला के दौरान गोवा के स्थानीय पौधों की पहचान एवं आरोग्य में उपयोगिता पर प्रत्यक्ष डेमोंस्ट्रेशन किया गया, समारोप सत्र में डॉ अशोक वार्ष्णेय जी का पाथेय प्राप्त हुआ।

Medicinal Plant National Workshop Panaji Goa Done 01

Medicinal Plant National Workshop Panaji Goa Done 02