हिमाचल प्रांतीय सम्मलेन

 आरोग्य भारती हिमाचल  का प्रांतीय सम्मलेन ४ फेब्रुअरी २०१२ को श्री श्री रवि10370791_10203678316188229_639318206_n
शंकर विद्या मंदिर ऊना में संपन हुआ . विकृत जीवन शैली जनित रोग एक चुनोती विषय
पर आयोजित इस सम्मलेन का शुभारम्भ प्रोफ.प्रेम कुमार धूमल  माननीय मुख्य
मंत्री हिमाचल सरकार द्वारा किया गया.प्रदेश के १० जिलो से आये ३२४
प्रतिभागीओं ने सम्मलेन में भाग लिया. खचाखच भरे सम्मलेन हॉल में प्रतिभागीओं
को सम्भोदित करते हुए  प्रोफ.प्रेम कुमार धूमल ने  आरोग्य भारती हिमाचल की
प्रन्शंषा करते हुए कहा की विकृत जीवन शैली जनित रोग एक चुनोती विषय को चुन कर
सटीक विषय पर सम्मलेन आयोजित कर श्लाग्निया कार्य किया है.
सम्मलेन में श्री सतपाल सिंह सत्ती एवं श्री वीरेंदर कँवर मुख्य संसदीय
सचिव  हिमाचल सरकार,श्री प्रवीण शर्मा उपाध्यक्ष हिमाचल जल बोर्ड,  श्री प्रेम सिंह ड्रेक
,आईएस ,निदेशक आयुर्वेद हिमाचल ,जिला प्रशाशन,डॉ.अमर बहादुर ठाकोर, क्षेत्रीय संगठन मंत्री आरोग्य भारती,प्रो.आर .के मुतातकर,अध्यक्ष सेंटर ऑफ़ एक्स्सल्लांस-आयुष इन पब्लिक Health पुणे  और 10405823_10203678316148228_894977581_n
अनेकों गणमान्य लोग उपस्थित थे.
डॉ.दिनेश कटोच,संयुक्त सलाहकार आयुष,स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय
भारत सरकार,दिल्ली,ने विकृत जीवन शैली जनित रोग एक चुनोती विषय पर कुंजी
उद्भोदन प्रस्तुत किया .
प्रो.आर .के मुतातकर,पुणे,प्रो. अशोक अत्तरी,गवर्मेंट मेडिकल कॉलेज
चंडीगढ़,प्रोफ संजीव शर्मा ,गवर्मेंट आयुर्वेदिक  कॉलेज पपरोला
,प्रो.पूनम,Agriculture University पालमपुर ,डॉ.मुनीश गर्ग Cardiologist ,टगोर
हॉस्पिटल Jallandher , डॉ.वीरेंदर पूरी,Spine & जोइंट ओर्थोपेडिक Surgeon
,AIIMS न्यू देलही, डॉ.विजयंत भरद्वाज, गवर्मेंट आयुर्वेदिक  कॉलेज
पपरोला,डॉ.श्रीमती सोनी कपिल, गवर्मेंट आयुर्वेदिक  कॉलेज पपरोला,डॉ.अनिल
भरद्वाज,गवर्मेंट आयुर्वेदिक  कॉलेज पपरोला,डॉ.राजेश कपूर,पारम्परिक चिकित्सक
सोलन   अदि विशेषज्ञों ने अपने प्रपत्र  प्रसतुत किये.डॉ.अमर बहादुर
ठाकोर,क्षेत्रीय संगठन मंत्री आरोग्य भारती एवं डॉ.राकेश पंडित प्रान्त संयोजक
आरोग्य भारती हिमाचल ने भी प्रतिभागीओं को संबोधित किया.
प्रोफ.प्रेम कुमार धूमल  माननीय मुख्य मंत्री हिमाचल सरकार द्वारा आरोग्य
भारती हिमाचल का वेबसाइट व्व्व.arogyabharatihimachal .ओर्ग का लोकार्पण एवं
गवाक्ष भारती मासिक जौर्नल के आरोग्य  भारती विशेषांक का विमोचन भी किया गया.
अंत में डॉ.हेम राज शर्मा द्वारा धन्यवाद प्रस्ताव प्रस्तुत किया गया.


 Dr.Rakesh Pandit
Prant Sanyojak